शंघाई अंतरराष्ट्रीय प्रदर्शनी में लगी मिथिला पेंटिंग्स, लोगों ने सराहा


  • चीन की प्रतिष्ठित 10वीं अंतरराष्ट्रीय पारंपरिक कला प्रदर्शनी
  • भारत समेत कई देशों की कलाकृतियां को प्रदर्शित किया गया

चीन की प्रतिष्ठित 10वीं अंतरराष्ट्रीय पारंपरिक कला प्रदर्शनी का आयोजन शंघाका ई कला संग्रहालय में 11 जून को किया गया. इसमें चीन और भारत के साथ-साथ जापान, दक्षिण कोरिया, तुर्की, ईरान और अमेरिका की कलाकृतियां को प्रदर्शित किया गया.

sanghai-chhina-2_061220125841.jpg

इस अवसर पर विश्व प्रसिद्ध मधुबनी चित्रकला (मिथिला पेंटिंग्स) को भारत की ओर से प्रदर्शित किया गया. इसमें भगवान शिव-पार्वती और राष्ट्रीय पक्षी मोर के चित्र को कलाप्रेमी, विदेशी और चीनी लोगों ने विशेष रूप से सराहा.

sanghai-chhina-3_061220125929.jpg

इस अवसर पर मीडिया से बात करते हुए शंघाई में भारत के कॉन्सुल जनरल अनिल राय ने सांस्कृतिक धरोहर और कला को संजोने और इसके माध्यम से एक दूसरे को समझाने पर विशेष जोर दिया.

sanghai-chhina-4_061220125944.jpg

इस प्रदर्शनी के साथ-साथ एक निवेश पर चर्चा भी आयोजित की गई थी. इस अवसर पर अनिल राय ने महामारी से निपटने हेतु अर्ली वार्निंग सिस्टम (early warning system), मानवता की स्वास्थ्य सुरक्षा और आने चुनौतियों से निपटने में उपयोगी विषयों पर निवेश केंद्रित करने की आवश्यकता पर जोर दिया.

देश-दुनिया के किस हिस्से में कितना है कोरोना का कहर? यहां क्लिक कर देखें

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें

  • Aajtak Android App
  • Aajtak Android IOS





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *