बच्चों के साथ मुंबई से आजमगढ़ लौट रहे मजदूर की मौत, शव फेंक भागा ट्रक ड्राइवर


  • मध्य प्रदेश के शिवपुरी जिले का मामला
  • शव और परिजनों को एंबुलेंस से भेजा गया

मध्य प्रदेश में मानवता को शर्मसार करने वाली एक खबर आई है. शिवपुरी जिले के करैरा में मुंबई से आजमगढ़ जा रहे मजदूरों से भरी ट्रक में अचानक एक मजदूर की तबीयत बिगड़ जाने से उसकी मौत हो गई. ट्रक चालक मजदूर को सड़क किनारे फेंककर वहां से फरार हो गया. उसकी तीन नाबालिग बेटियां भी साथ थीं.

मृतक हंसराज जायसवाल के साले का कहना है कि मेरे जीजाजी लकवा के मरीज थे. हम सब मुंबई के ठाणे में काम करते थे. लॉकडाउन में सोचा गांव चलें, तो उत्तर प्रदेश के आजमगढ़ जिले के लिए ट्रक से चल दिए. रास्ते में मौत हो जाने से ट्रक वाला शिवपुरी-झांसी रोड पर सड़क किनारे हम सबको छोड़कर चला गया.

कोरोना पर फुल कवरेज के लि‍ए यहां क्ल‍िक करें

इस सिलसिले में करैरा के तहसीलदार गौरीशंकर बैरवा का कहना है कि ट्रक वाला हंसराज की मौत के बाद उसके शव और परिजनों को सड़क किनारे छोड़ चला गया. उसकी तीन नाबालिग बेटियां भी साथ थीं. यह जानकारी हमने कलेक्टर को दी. इसके बाद लाश समेत परिजनों को उनके गांव तक भेजने की व्यवस्था एंबुलेंस से कर दी गई है.

देश-दुनिया के किस हिस्से में कितना है कोरोना का कहर? यहां क्लिक कर देखें

शिवपुरी में ट्रक से मजदूर को उतार फेंकने का यह पहला मामला नहीं है. 15 मई को अमृतलाल नामक युवक सूरत से उत्तर प्रदेश के बस्ती जिले में ट्रक से जा रहा था. शिवपुरी के बायपास चौराहे के निकट आते-आते युवक की तबीयत बिगड़ जाने से बेहोश हो गया. इस कारण युवक को चौराहे पर उतारकर ट्रक आगे निकल गया.

कोरोना कमांडोज़ का हौसला बढ़ाएं और उन्हें शुक्रिया कहें…

अमृत के साथ उसका मुस्लिम दोस्त सयूब मोहम्मद भी मदद के लिए उतर गया. उसे कोलारस के सरकारी अस्पताल भेजा गया. वहां गंभीर हालत देखते हुए प्राथमिक उपचार के बाद जिला अस्पताल भेज दिया. हालत को नाजुक देखते हुए उसे वेंटिलेटर पर रखा गया और कोरोना सैंपल लिया गया. रात 12 बजे के करीब अमृतलाल की मौत हो गई.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें

  • Aajtak Android App
  • Aajtak Android IOS





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *